बेहोश होने तक मंत्रियों को प्याज फेंक कर मारो- राज ठाकरे

Raj Thackeray

नासिक :- महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे ने आज कहा कि, मंत्रियों पर प्याज फेंकने के बाद, सरकार ने प्याज 200 रुपये प्रति क्विंटल की सब्सिडी का ऐलान किया है। इस सब्सिडी को मिया स्वीकार नहीं करता और तब तक नहीं करुंगा जब तक प्याज का सही मूल्य नहीं मिल जाता। इसलिए किसानों को फिर से मंत्रियों पर प्याज फेंकना चाहिए।

प्याज के लिए 200 रुपये प्रति क्विंटल देने का निर्णय राज्य कैबिनेट की बैठक में लिया गया है। साथ ही सरकार राज्य में परिवहन और प्याज प्रसंस्करण उद्योग को प्रोत्साहित करने पर विचार कर रही है। सरकार ने कहा है कि, 1 नवंबर से 15 दिसंबर तक कृषि उत्पादन बाजार समिति में प्याज पर लगाई गई सब्सिडी के वही लोग पात्र है जिन्होंने अपना नाम दर्ज किया है।

बुधवार को किसानों से कहा कि, अगर मंत्री उनकी बात नहीं सुनते हैं तो उन पर प्याज फेंक दें। राज ने यह बयान महाराष्ट्र में नासिक में एक किसान सभा को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान उन्होंने कहा कि किसानों की मांगों को पूरा न करने वाले मंत्रियों पर प्याज फेंका जाना चाहिए।

इससे पहले मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने शिवसेना पर विवादित बयान दिया था। उन्होंने शिवसेना की तुलना कुत्ते से कर दी थी। दरअसल, राज ठाकरे से पूछा गया था कि शिवसेना ने भारत बंद को असफल कहा है। जिसके जवाब में राज ठाकरे ने कहा, ‘कुत्ते की एक ऐसी प्रजाति भी होती है जिसे यह पता नहीं होता है कि उसे कहां देखना है। शिवसेना की भी यही स्थिति है। जब उनका पैसा टकता है तो वह गठबंधन से बाहर आने की बात करते हैं और जब उनका काम निकल जाता है तो वे चुप्पी साध लेते हैं।’

इसके अलावा मुस्लिमों के द्वारा अजान पढ़ने के मामले पर भी ठाकरे का बयान सुर्खियों में रहा था। उन्होंने कहा था, मुसलमानों को घर पर नमाज अदा करनी चाहिए ताकि किसी को कोई परेशानी न हो।’