पुणे: ऑफिस के बाहर महिला की बेरहम हत्या, सुरक्षा पर सवाल

Murder
Representative Pic

पुणे : सॉफ्टवेयर इंजिनियर युवती की उसके ऑफिस से मात्र 500 मीटर की दूरी पर छुरा घोंपकर बेरहमी से हत्या कर दी गई.

घटना उस वक्त हुई जब वह अपने ऑफिस से फ्रेंड के घर जाने के लिए निकली. ऑफिस से निकलने के साथ ही हमलावर उसके पीछे लग गया और मौका मिलते ही युवती के सिर और गर्दन पर छुरे से कई वार किए. अस्पताल पहुंचाते समय रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया. हत्यारा अभी तक फरार है.

पिछले कुछ समय में पुणे में महिलाओं पर होने वाला इस तरह का यह पांचवा हमला है. एक के बाद एक खुले आम महिलाओं पर हो रहे जानलेवा हमले, पुणे में महिलाओं की सुरक्षा पर सवालिया निशान लगा रहे हैं.

हमले की शिकार 23 वर्षीय युवती का नाम अंतरा दास बताया जाता है. मूल रूप से कोलकाता निवासी अंतरा पुणे में बतौर सॉफ्टवेयर इंजिनियर काम कर रही थी. फुटपाथ से होकर केएनबी चौक की तरफ जाते समय अंतरा पर हमला हुआ.

जिस जगह उस पर हमला हुआ उस जगह की स्ट्रीट लाइट बंद थी. वह मदद के लिए चिल्लाते हुए भागी, लेकिन कोई मदद को नहीं आया. इसी दौरान वह मोटर साइकिल सवार सत्येंद्र कृष्णानंद सिन्हा से टकरा गई. अंतरा की मदद करते हुए वह उसे नजदीकी प्राइवेट हॉस्पिटल ले गए. जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया.

पुलिस कम्प्लेन दर्ज कराते वक्त सिन्हा ने बताया कि हमलावर ने काले और नीले रंग की धारीदार टी-शर्ट पहन रखी थी. पुलिस हमलावर की तलाश कर रही है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, पीजी में रहने वाली अंतरा हर रोज बस से आना जाना करती थी. लेकिन शुक्रवार की रात उसे ऑफिस के नजदीक किसी फ्रेंड के यहां जाना था. वह 8.25 पर ऑफिस से निकली और केएनबी चौक की तरफ पैदल जा रही थी. उसी वक्त उस पर हमला हुआ.

जांच के दौरान पुलिस को अंतरा के पर्स से कोलकाता का पता मिला. जिसके आधार पर पुलिस ने अंतरा के पैरंट्स से संपर्क किया. शनिवार देर रात फ्लाइट से उनके पिता पुणे पहुंच गए. सरेआम हत्या की इस घटना ने पुणे में महिलाओं की सुरक्षा पर एक बार फिर सवालिया निशान लगा दिया है.