गन्ना किसानों को उचित दर देने के लिए चीनी कारखानों को उप-पदार्थ के निर्माण पर ध्यान देना चाहिए -फडणवीस

cm fadnavis
  • – “किसन वीर” के उप पदार्थ के निर्माण का कार्य उन्नति पर
  • – कारखाने के परिसर में स्थित अमर जवान स्मारक हमेशा प्रेरणा देगा
  • – पुलवामा हमले में ज़खमी जवान का मुख्यमंत्री के हाथों में विशेष सम्मान

सातारा: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आज यहाँ कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चीनी का भाव कम हो गया है। ऐसी स्थिति में गन्ना किसानों को बेहतर दर देने के लिए चीनी कारखानों को उप-कमोडिटी के निर्माण पर ज़ोर देने की आवश्यकता है। चीनी कारखान में नई डिस्टलरी बनाने के लिए मुख्यमंत्री ने किसन वीर परिवार की प्रशंसा की और कहा कि इस कारखाने ने क्षेत्र में मार्गदर्शन का कार्य किया है।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों भुज में किसन वीर सहकारी चीनी कारखाने की तीसरी डिस्टिलरी परियोजना का उद्घाटन किया गया। साथ ही, पुलवामा में शहीद हुए जवानों की स्मृति में अमर जवान स्मारक का भूमिपूजन पुलवामा हमले में घायल जवान सुशांत प्रमोद के हाथों कराया गया। अमर जवान पार्क में पूर्व और सेवानिवृत्त सैनिकों के साथ मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों 43 वृक्षारोपण किया गया।

इस कार्यक्रम के बाद एक सार्वजनिक सभा हुई। सभा में मुख्यमंत्री श्री फडणवीस ने अपने संबोधन में यह बात कही।

इस अवसर पर राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल, सहकारिता मंत्री सुभाष देशमुख, किसन वीर सहकारी चीनी कारखाने के अध्यक्ष मदन भोसले, उपाध्यक्ष और पूर्व सांसद गजानन बाबर, खंडाला कारखाने के अध्यक्ष शंकर राव गाडवे, वाई की महापौर प्रतिभा शिंदे, मालेगांव सहकारी चीनी कारखाने के अध्यक्ष रंजन तावरे, पूर्व विधायक कांताताई नलावडे, पूर्व विधायक डॉ दिलीप येलगावकर, स्टेट बैंक के प्रतिनिधि अविनाश महागावकर, भरत पाटिल, विक्रम पावसकर, चीनी कारखाने के कार्यकारी संचालक ए. बी. जाधव, विनीत कुबेर आदि समेत बड़ी संख्या में स्थानीय लोग उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि फिलहाल अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में चीनी की कीमतो में बहुत गिरावट आ गई है। ऐसी परिस्थितियों में, गन्ना उत्पादकों को बेहतर मूल्य देने के लिए अन्य उप-उत्पादों के निर्माण पर जोर देने की आवश्यकता है। किसान वीर कारखाना ने तीसरे डिस्टिलरी प्रोजेक्ट के माध्यम से यह लक्ष्य हासिल किया है और किसान वीर फैक्ट्री के सदस्यों को निश्चित रूप से इसका लाभ मिलेगा।

किसान वीर परिवार के साथ मजबूती से खड़े होने का आश्वासन देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान वीर परिवार की विशेषता देशभक्ति और सामाजिक जागरूकता है। 26/11 के हमलों में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए फैक्ट्री परिसर में निर्मित शहीद स्मृती स्मारक बहुत ही प्रेरणादायक है। इसके अलावा पुलवामा में शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि देने के लिए अमर जवान स्मारक बनाने का कारखाना का काम बहुत सराहनीय है।

श्री फडणवीस ने कहा कि 2016 में उरी में हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने आतंकवादियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया। इसी तरह पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने और ज्यादा ज़ोरदार जवाबी कार्रवाई करते हुए बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आंतकी शिविर को नष्ट कर दिया। श्री फड़णवीस ने कहा कि इस सैन्य कार्रवाई के बाद भारत के बारे में पूरी दुनिया में अच्छा और सकारात्मक संदेश गया है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत का हर नागरिक शहीद सैनिकों के परिवार के साथ मज़बूती से खड़ा रहा।

किसन वीर सहकारी चीनी कारखाने के अध्यक्ष श्री मदन भोसले ने अपने संबोधन में कहा कि संकट के समय हमेशा ही यह चीनी कारखाना सरकार की ओर मदद का हाथ बढ़ाता रहा है और इस बार भी यह चीनी कारखाना अपने पुराने गौरव को क़ायम रखा।

श्री मदन भोसले ने कहा कि स्पेंन्ट वॉश टू सीएनजी जैसी परियोजना शुरू करके किसन वीर सहकारी चीनी कारखाने ने राज्य में सहकारी कारख़ानों के लिए मार्गदर्शक का कार्य किया है।

इस अवसर पर सार्वजनिक सभा में उपस्थित लोगों को राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल और सहकारिता मंत्री सुभाष देशमुख ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर किसन वीर सहकारी चीनी कारखाने के कर्मचारियों की ओर से पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवानों के परिवार को आर्थिक मदद देने के लिए मुख्यमंत्री को 5 लाख 51 हज़ार रुपए का चेक सौंपा गया। इसके अलावा पुलवामा आतंकी हमले में घायल सातारा जिले के रुई-शेंदुर्जणा के सुपुत्र जवान सुशांत प्रमोद वीर का मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों विशेष सम्मान किया गया।

इस अवसर पर किसन वीर सहकारी कारखाने के सदस्य और बहुत बड़ी संख्या में इस क्षेत्र के नागरिक उपस्थित थे।