विविध योजनाओं के माध्यम से महिला सक्षमीकरण को गति – प्रधानमंत्री

Hon PM & Cm Sir - Mahila Bachat Gat Program Yavtmal (2)
  • प्रधानमंत्री ने किया कोलामी, बंजारा, मराठी भाषा में संवाद
  • विविध योजनाओं के लाभार्थियों को धनादेश, सर्टिफिकेट वितरण
  • बचतगुटों के लिए जीरो प्रतिशत ब्याजदर से कर्ज आपूर्ति – मुख्यमंत्री

यवतमाल : यवतमाल के साथ राज्य में महिला बचतगुटों बड़ा जाल हैं. बचत गुटों की महिलाएं, इस ग्रामीण क्षेत्र की अर्थव्यवस्था की रीढ़ मजबूत हो इसके लिए ढाई गुना ज्यादा निधि उपलब्ध करवाया है. इसके साथ ही उज्ज्वला गैस योजना, प्रधानमंत्री आवास योजनाओं का लाभ उन्हें दिया जा रहा है, इससे महिला सक्षमीकरण को गति मिलने में मदद हो रही है, ऐसा गती प्रतिपादन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया.

पांढरकवडा में आज विविध विकासकामों की बुनियाद तथा प्रकल्पों लोकार्पण कार्यक्रम में वह बोल रहे थे. इस समय राज्यपाल चे. विद्यासागर राव, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी, केंद्रीय गृहराज्यमंत्री हंसराज अहीर, पालकमंत्री मदन येरावार आदि उपस्थित थे.

श्री. मोदी ने कहा, बचत गुटों की महिलाएं उद्योग-व्यवसाय शुरू कर स्वावलंबी हो, इसके लिए उन्हें दिए जानेवाले घूमते निधि में 40 हजार की बढ़ोतरी की गई हैं. यह निधि अब 1 लाख रुपये किया गया है. ग्रामीण महिलाओं ने वन उपज पर प्रक्रिया कर मुल्यवर्धन का लाभ लेना चाहिए. सरकार द्वारा वन उपज की आधारभूत खरीदी किमत तीन बार बढ़ाई हैं. हाल ही प्रस्तुत किए बजट में किसान, मजदूर, श्रमिक और खेतिहर मजदूरों के लिए बड़ा प्रावधान किया है. किसान सम्मान योजना से पाँच एकड़ तक खेतीवाले किसानों के खातों में प्रतिवर्ष 6 हजार रुपये सीधे जमा किए जाएंगे. इसका लाभ राज्य में सवा करोड़ किसानों को इसका लाभ मिलेगा. यवतमाल जिले में भटकंती करनेवाला भटका समाज बड़े पैमाने पर हैं. उनके कल्याण के लिए मंडल की स्थापना की जाएगी. श्रमयोगी मानधन योजना से 60 वर्ष पूर्ण करने के बाद 3 हजार रुपये मानधन दिया जाएगा. आदिवासियों की सामाजिक सुरक्षा और उनके विकास के लिए बजट में 30 फीसदी प्रावधान किया है. जल-जंगल-खेल आदि से आदिवासियों के कल्याण के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. देश को खेल के क्षेत्र में महासत्ता बनाने के लिए देश के आदिवासी बहुल 150 जिलों में खेल के लिए विशेष ध्यान दिया जा रहा है. इसके लिए प्रत्येक जिले के लिए पाच करोड़ का प्रावधान किया गया है. देश के स्वतंत्रता आंदोलन में आदिवासियों का बड़ा योगदान हैं. उनके कल्याण और महिला सक्षमीकरण के लिए विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही है, ऐसा उन्होंने बताया.

जनवन और वनधन योजनाएं आदिवासियों के लिए चलाई जा रही हैं. इस योजना से सीधे मदद उनके खातों में जमा होगी. वनधन योजना से आदिवासी जो उत्पादन लेंगे उसकी उचित कीमत उन्हें मिलनी चाहिए. आदिवासियों के हित के लिए वनधन केंद्र शुरू किया जाएगा. बांबू के लिए कानून में सुधार किया गया है. इससे अब बांबूपर आधारीत उद्योंगों को प्रोत्साहन मिलेगा, ऐसा उन्होंने कहा.

Hon PM & Cm Sir - Mahila Bachat Gat Program Yavtmal 5

अपने भाषण में पुलवामा घटना शहीद हुए राज्य के दो जवानों का गौरवपूर्वक उल्लेख कर इस संदर्भ में केंद्र सरकार की ठोस भूमिका की बात दोहराई.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री. फडणवीस ने कहा कि, जीवनोन्नती अभियान के माध्यम से ‘उमेद’ के तहत जिले के 1 हजार 320 गांवों में 17 हजार बचतगुटों की निर्मिती की गई जैन. इन बचत गुटों को 123 करोड़ का घूमता निधि उपलब्ध करवाया गया हैं. राज्य में 254 तहसीलों में उमेद की व्याप्ति हैं. इन तहसीलों में दो लाख 65 हजार महिलाओं के बचत गुट कार्यरत हैं. लगभग 35 लाख परिवार इस अभियान से जोड़े गए हैं. इससे उनमें परिवर्तन हो रहा हैं. बचत गुटों द्वारा लिए कर्ज की रिकवरी पूर्ण हो रही हैं. कर्ज वापस करने में महिलाएं ईमानदार होने की वजह से उन्हें अब व्यवसाय उद्योगों के लोए शून्य प्रतिशत ब्याजदर से कर्ज उपलब्ध करवाया जाएगा, ऐसा उन्होंने बताया.

श्री. गडकरी ने कहा, जिले में सिंचाई के अभाव में खेती की समस्या निर्माण हुई थी. बलिराजा प्रकल्प के माध्यम से अपूर्ण सिंचाई प्रकल्प पूर्ण किए जाएंगे. इससे सिंचाई क्षेत्र में बढ़ोतरी होने में मदद होगी. बेंबला प्रकल्प का काम पूर्ण होने पर लगभग डेढ़ लाख हेक्टेयर क्षेत्र सिंचाई के नीचे आएगा. डेहणी उपसा सिंचाई योजना से आठ हजार हेक्टेयर जमिन सिंचाई के नीचे आएगी. केंद्रीय सड़क विकास निधि से जिले में कई स्थानों पर सड़क के काम शुरू है. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के साथ किसानों की कल्याण की कई योजनाएं शुरू हैं, ऐसा उन्होंने कहा.

प्रधानमंत्री श्री. मोदी के हाथों केंद्रीय सड़क निधि के अंतर्गत निर्माण किए जानेवाले विभिन्न रास्तों का भूमिपूजन किया गया. कलंब- रालेगाव- वडनेर-वडकी महामार्ग का लोकार्पण, नांदेड जिले के किनवट तहसील के सहस्त्रकुंड स्थित एकलव्य आदर्श निवासी शाला का उद्घाटन, अजनी (नागपुर)-पुणे हमसफर रेल को वीडियो के माध्यम से हरी झंडी दिखाई गई. साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों का ई-गृहप्रवेश और लाभार्थियों को घरकुल वितरण और महाराष्ट्र राज्य ग्रामीण जीवन्नोनती अभियान के लाभार्थियों को प्रमाणपत्र, धनादेश वितरीत किए गए. चंद्रपुर के हिमोग्लोबीन जांच केंद्र का ई-उद्घाटन किया गया.

कार्यक्रम के प्रारंभ में पुलवामा में शहीद हुए जवानों को मौन रखकर श्रद्धांजली अर्पित की गई. सार्वजनिक लोकनिर्माण विभाग, एकलव्य निवासी शाला, प्रधानमंत्री आवास योजना, ग्रामीण जीवनोन्नती अभियान की डॉक्यूमेंट्री दिखाई गई.

Hon PM & Cm Sir - Mahila Bachat Gat Program Yavtmal (3)

इस समय प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थी वैशाली येडे, संगिता मंगाम और अतिक्रमित जगह पर घर का निर्माण करनेवाले देवका सोलंकी, शंकर बोजवार को घरकुल की चाबियां प्रधानमंत्री के हाथों दी गई. साथ ही उन्होमे मिस्त्री का प्रशिक्षण लेनेवाले रघूनाथ चव्हाण को प्रमाणपत्र दिया. बचत गुटों के पशू सखी, कृषी सखी और बँक सखी को धनादेश दिए गए. पंडित दिनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण लिए निकिता जाधव को नियुक्ति पत्र और ग्रामीण स्वयंरोजगार प्रशिक्षण केंद्र में प्रशिक्षण पूर्ण करनेवाली रचना मेश्राम को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से टेलरिंग के लिए कर्ज वितरीत किया गया. केंद्रीय राज्यमंत्री श्री. अहिर ने स्वागतपर भाषण किया.