आम आदमी की आवाज़ के रूप में शिवसेना सत्ता में – उद्धव ठाकरे

Uddhav Thackeray

औरंगाबाद : शिवसेना का जन्म केवल किसानों की सेवा के लिए हुआ है। सत्ता में रहकर शिवसेना विरोधक जैसे व्यव्हार करती है ऐसी टिप्पणी में हम पर होती है। उद्धव ठाकरे ने कहा है कि, हम निश्चित रूप से सत्ता में हैं लेकिन हम एक आम आदमी की आवाज के रूप में हैं। उद्धव ठाकरे आज औरंगाबाद के दौरे पर हैं। अगर हमने किसानों की मदद नहीं की, तो हमारे और यूपीए के बीच क्या अंतर है? ऐसा प्रश्न ने ठाकरे ने पूछा। उद्धव ठाकरे ने चेतावनी दी कि, किसानों की समस्या नहीं सुलझाओगे तो तुम्हारी दुकान बंद कर देंगे।

उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो किसानों को मुख्यमंत्री के पास ले जाएंगे। शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे ने फसल बीमा केंद्र का दौरा किया। इसके बाद, उन्होंने एक छोटा भाषण दिया। उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना के किसानों के साथ हैं। उसने बीमा कंपनियों से यह भी कहा है कि,वह भी उसी भाषा में जवाब दे सकती है जो भाषा आगे वाला व्यक्ति समझता है।

सूखा में मराठवाड़ा पांचवे स्थान पर है । कई योजनाएं यहां लोगों तक नहीं पहुंचती हैं। शिवसेना ने हमेशा किसानों को संकट में पड़ने पर उनके पीछे खड़े होने में मदद करने का काम हमेशा से किया है। किसानो के लिए बैंकों को पैसे दिया था। वो पैसे किसानों को क्यों नहीं मिले ? ऐसा मेरा बैंक से सवाल है। हमने जिन्हे कुर्सी पर बिठाया है उन्हें ही रास्ते पर छोड़ दो हम भी कांग्रेस जैसे हो जाएंगे और ये हम होने नहीं देंगे। जरूरत पड़ी तो शिवसेना किसानों के लिए रस्ते पर उतरेगी ऐसा भी उद्धव ठाकरे ने कहा।