नथुराम ने गांधीजी के शरीर की तो साध्वी देश के आत्मा की हत्या कर दी – कैलाश सत्यार्थी

Sadhvi - Kailash Satyarthi

भोपाल : सत्ता और राजनीती के बाद राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का स्थान है। साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर जैसे लोग देश (भारत) के आत्मा की हत्या करते है। भाजपा ने प्रज्ञा सिंह ठाकुर को पार्टी से निकाल देना चाहिए है। ऐसी मांग नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने की है। भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर इन दिनों नथूराम गोडसे पर बयान देकर चर्चा का विषय बनी हुई हैं।

दरअसल, मालेगांव विस्फोट की आरोपी और भोपाल से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने महात्मा गांधी के हत्यारे नथूराम गोडसे की प्रशंसा करते हुए उन्हें देशभक्त कहा था। जैसे ही साध्वी प्रज्ञा के बयान पर विवाद हुआ, उन्होंने माफी मांगी। उन्होंने माफ़ी मांगते हुए कहा कि, मेरे मन में महात्मा गांधी के प्रति आदर है। उन्होंने देश के लिए किये कार्य को कभी भी भूल नहीं सकते।

इस पर कैलाश सत्यार्थी ने ट्वीट किया कि, गोडसे ने गांधी के शरीर की हत्या की थी । लेकिन प्रज्ञा जैसे लोग आत्मा,अहिंसा,सहिष्णुता और भारत की आत्मा की हत्या करते है। महात्मा गांधी सत्ता और राजनीति से बहुत दूर थे। भाजपा ने छोटे लाभों का मोह छोड़कर साध्वी प्रज्ञा को तुरंत पार्टी से निकलकर राजधर्म का पालन करना चाहिए।