7 से 12 अक्टूबर तक राज्य के कुछ क्षेत्रों में तेज आंधी के साथ बारिश

खेत में निकालकर रखी हुई फसल को सुरक्षित रखें किसान

Mantralaya

मुंबई :- 7 से 12 अक्टूबर के दौरान विदर्भ, मराठवाडा और मध्य-महाराष्ट्र के कुछ क्षेत्रों में दोपहर के बाद बादलनुमा हवामान के साथ आंधी तूफान के साथ बारिश का अनुमान हवामान विशेषज्ञों ने जताया है. नाशिक के साथ खान्देश और औरंगाबाद जिले में 8 तारीख तक कुछ पैमाने में बादलनुमा हवामान और तेज आंधी के साथ बारिश की संभावना है, तथा नगर, पुणे, सांगली, सातारा, कोल्हापुर और सोलापुर जिलों के कुछ क्षेत्रों में 12 तारीख तक मेघ गर्जना के साथ बारिश की संभावना है. लातूर, बीड, उस्मानाबाद और नांदेड जिलेसमेत शेष मराठवाड़ा में हवामान की यह स्थिति 11 तारीख तक रहेगी. चंद्रपुर, यवतमाल, वर्धा, नागपुर, भंडारा और गोंदिया जिले के कुछ भागों में 12 तारीख तक कुछ पैमाने में बादलनुमा हवामान और मेघ गर्जना के साथ बारिश होगी.

आंधी के साथ बारिश की तीव्रता, कालावधि और क्षेत्र अधिक न होने के कारण किसानों को घबराने की जरूरत नहीं है. इस हवामान की स्थिति के अनुसार किसानों द्वारा खेती का नियोजन करने और निकालकर रखे हुए फसलों को सुरक्षित रखने का आवाहन, कृषि विभाग की ओर से किया गया है. इस कालावधि में किसानों को दोपहर के बाद आवेवाले आंधी औऱ बिजली से खुद की सुरक्षा करने का आवाहन किया है. आंधी आने पर लोगोंको पेड़ के नीचे, खुली जगह पर, टिन के शेड के नीचे, बिजली प्रवाह के तारों तथा विद्युत ट्रांसफार्मर ने समीप न रुकने का आवाहन भी किया गया है.