राष्ट्रपति ने किया एयरपोर्ट का लोकार्पण अब मुंबई से शिर्डी पहुंचने में लगेंगे सिर्फ 40 मिनट

शिर्डी : लंब से समय के इंतजार के बाद मुंबई -शिर्डी विमान सेवा शुरू हुई है। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शिर्डी एयरपोर्ट का लोकापर्ण सुबह किया। मुंबई से शिर्डी अब 40 मिनट में पहुंचा जा सकता है। इसके बाद उन्होंने साईं शताब्दि महोत्सव का उद्घाटन भी किया। इस मौके पर राज्यपाल सी. विद्यासागर राव, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस मौजूद थे।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, राष्ट्रपति कोविंद ने एयरपोर्ट के लोकार्पण के बाद कहा कि, शिर्डी की पावन भूमि में आकर मैं धन्य हो गया, पिछले 27 सालों से मैं यहां आ रहा हूं।

मैं साईं की कर्मभूमि को नमन करता हूं। इस एयपोर्ट से श्रद्धालुओं को फायदा होगा वही लोगों को रोजगार भी मिलेगा। राष्ट्रपति ने यह भी कहा कि, साईं बाबा के जन्मस्थान पाथरी गांव के विकास के लिए भी प्रयास किया जाना चाहिए।

राष्ट्रपति के आगमन पर शिर्डी में आज सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया है। प्रशासन ने इसकी तैयारी काफी दिनों से की थी। साईं मंदिर में भी कड़ी सुरक्षा रखी गई है। सुबह 9 से 11 बजे तक दर्शन बंद किया गया था। वहीं आरती के पास बांटना भी बंद किया था। राष्ट्रपति द्वारा विधिवत उद्घाटन के बाद मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद और भोपाल से विमान शिर्डी के लिए उड़ान भर सकेंगे। फिलहाल शिर्डी एयरपोर्ट से प्रतिदिन छह उड़ानों की मंजूरी दी गई है। यात्रियों की संख्या बढ़ने के बाद उड़ान की संख्या बढ़ाई जाएगी।

बता दे की, शिर्डी का एयरपोर्ट अहमदनगर जिले के काकड़ी गांव में बनाया गया है। कई परीक्षणों के इसे डायरेक्ट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने दिन में उड़ान भरने का लाइसेंस जारी किया था। इस एयरपोर्ट पर पर एयर बस-320 और बोइंग-737 उतारे जा सकेंगे।

नागर विमानन मंत्रालय ने शिर्डी में एयपोर्ट बनाने की सैद्धांतिक मंजूरी 2011 में दी थी। करीब 900 एकड़ में फैले इस हवाईअड्डे को बनाने में 350 करोड़ रुपये खर्च आया, जिसमें से 50 करोड़ शिर्डी के साई बाबा संस्थान ने दिया है। फ्लाइट से शिर्डी आने वाले श्रद्धालु के लिए साईं बाबा के विशेष दर्शन का आयोजन भी किया जाएगा।