पोलैंड के निवेशकों का महाराष्ट्र राज्य में स्वागत – भूषण गगराणी

कोल्हापुर : महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव भूषण गागरानी ने आज यहां कहा कि महाराष्ट्र विशेष कर कोल्हापुर में कपड़ा उद्योग, फाउंड्री, चमड़ा उद्योग और पर्यटन जैसे क्षेत्रों में निवेश के व्यापक अवसर उपलब्ध हैं और महाराष्ट्र सरकार पोलैंड के निवेशकों को हर संभव प्रोत्साहन और सहयोग प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि कोल्हापुर और पोलैंड के बीच भावनात्मक संबंधों को मजबूत करने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपनी शुभकामनाएं दी हैं।

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव भूषण गागरानी आज सुबह यहां के होटल सयाजी में इंडो-पोलैंड बिजनेस मीट में अपने संबोधन में यह बात कही। इस अवसर पर पोलैंड के उप विदेश मंत्री मर्सिन प्रीज़ीदॉज़, पोलैंड के राजदूत एडम बुरकोस्की ने दिल्ली की तरह मुंबई या पुणे से वारसा के बीच सीधी हवाई यातायात सेवा शुरू करने की इच्छा व्यक्त की। कोल्हापुर के सांसद संभाजी राजे छत्रपति द्वारा आयोजित सम्मेलन में कोल्हापुर के उद्यमियों समेत कई प्रमुख लोगों ने भाग लिया।

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान पोलैंड के निर्वासित नागरिकों को कोल्हापुर में जिस तरह शरण दिया गया और पोलैंड के घायलों का जिस तरह से उपचार किया गया उसके लिए पोलैंड के उप विदेश मंत्री मर्सिन प्रीज़ीदॉज़ ने आभार व्यक्त किया। पोलैंड के नेता ने कहा कि पोलिश सरकार आने वाले वर्षों में महाराष्ट्र के साथ-साथ कोल्हापुर के साथ सांस्कृतिक आदान-प्रदान और व्यापार को बढ़ाने के लिए काम करेगी।

व्यापार में वृद्धि के लिए कोल्हापुर-पोलैंड फोरम

कोल्हापुर के सांसद संभाजी राजे छत्रपति ने घोषणा की कि कोल्हापुर और पोलैंड के बीच व्यापार और सांस्कृतिक आदान – प्रदान को बढ़ाने के लिए एक फोरम की स्थापनी की जाएगी। श्री छत्रपति ने कहा कि पोलैंड में व्यापार के अवसरों की तलाश में व्यापारियों का एक प्रतिनिधि मंडल जल्द ही पोलैंड भेजा जाएगा।

पोलैंड के राजदूत एडम बुरकोस्की ने कहा कि भारत में बड़े पैमाने पर निवेश करने वाला पोलैंड यूरोपीय यूनियन का प्रमुख देश है। उन्होंने कहा कि पोलैंड और भारत की जीडीपी एक समान है और यहां निवेश करने से पोलैंड के व्यावसाइयों को पूर्ण संतुष्टि और सहयोग मिलेगा।

पोलिश उद्योगों का महाराष्ट्र में स्वागत

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव भूषण गगराणी ने कहा महाराष्ट्र में निवेश करने के इच्छुक पोलैंड के उद्योगों का स्वागत है। दो साल से भी कम समय पहले चाकन में थोनी एलियोटेक को हर तरह का सहयोग दिया गया और कंपनी ने एक धातु प्रसंस्करण उद्योग शुरू किया। उन्होंने कहा कि दिल्ली की तरह पोलिश एयरलाइन मुंबई या पुणे से वारसा के लिए सीधी हवाई उड़ान सेवा शुरू करने की इच्छुक है। अब राज्य सरकार इस सेवा को जल्द से जल्द शुरू करने पर भी जोर देगी। इसके अलावा महाराष्ट्र और पोलैंड में औद्योगिक और सांस्कृतिक आदान-प्रदान को बढ़ाया जाएगा। पोलैंड का इरादा खाद्य प्रसंस्करण, चमड़ा, कपड़ा पर्यटन और चिकित्सा शिक्षा में निवेश बढ़ाना है। श्री गगरानी ने सम्मेलन में आए उद्यमियों ने प्रतिनिधि मंडल के साथ विभिन्न पहलुओं पर भी चर्चा की।