……फिर तेरी कहानी याद आई

पंकजा मुंडे प्रधानमंत्री से करेंगी गुजारिश , " मोबाइल से कैमेरे निकाल लिये जायें "

मुंबई : कथनी और करनी के बीच फर्क की एक ज्वलंत मिसाल बन गई है अक्सर विवादों में रहनेवाली महाराष्ट्र की ग्रामविकास मंत्री पंकजा मुंडे। वे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को मोबाइल फोन से कैमेरा निकाला दिए जाने की सिफारिश करने वाली हैं.

पंकजा का कहना है कि, किसी भी कार्यक्रम में जाने पर वहां मौजूद लोगों की ज्यादा दिलचस्पी सेल्फी लेने में देखी जाती हैं. इस वजह से आम लोगो के साथ साथ संवाद स्थापित करना कठिन हो जाता है. लोग स्मार्ट फ़ोन के जरिये सेल्फी या फोटो खीचने में व्यस्त रहते हैं। युवा पीढ़ी को इससे दूर रखना चाहिए

इस खबर के सार्वजनिक होते ही लोगबाग उस घटना की याद करने लगे है जिसमे स्वयं पंकजा मुंडे सेल्फी लेने के कारण विवादों में फस गयी थीं। मालूम हो कि विगत अप्रैल माह में सूखा प्रभावित मराठवाड़ा के लातूर में दौरे के दौरान पंकजा मुंडे सूख चुकी मंजारा नदी के तट पर लोगों से बातचीत के दौरान सेल्फी लेने लगी थी।

सेल्फी लेते हुए पंकजा मुंडे के चित्र प्रकाशित होने के बाद शिवसेना व् अन्य विपक्षी दलो के निशाने पर पंकजा आ गयीं थीं। स्वयं सत्तापक्ष भाजपा के नेताओं ने भी इसपर नाराजगी जाहीर की थी।

अब मोबाइल से कैमेरा निकाले जाने की सिफारिश पंकजा प्रधानमंत्री से करनेवाली है जिसपर लोग अब ताना मारने लगे है कि……. ” फिर तेरी कहानी याद आई ” .