राममंदिर के लिए नागा साधुओ का अयोध्या कूच

naga-sadHu

आयोध्या: देश में राम मंदिर बनाने के लिए देश में माहौल बनाने का काम शुरू है. वही विवादित ढांचा विध्वंस की तिथि 6 दिसंबर नजदीक आने के साथ ही रामनगरी में एक बार फिर हलचल तेज हो गई है. देश के बड़े संतो के बाद अब नागा साधुओ ने भी आयोध्या कुछ का ऐलान कर दिया है.

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के निर्णय के अनुसार लाखों की संख्या में नागा साधु 4 व 5 दिसंबर को राममंदिर निर्माण के लिए अयोध्या कूच करेंगे. वही अखाड़ा परिषद से जुड़े हिंदू पक्षकार महंत धर्मदास का कहना है कि विराजमान रामलला की मूर्ति को लेकर पहला केस हमारे गुरु महंत अभिरामदास जी ने किया था. अब लोग अलग-अलग ट्रस्ट बनाकर अधिर्गहित परिसर की भूमि सरकार से लेने के लिए दबाव बना रहे हैं. नागा साधु इसे लेकर खामोश नहीं रहेगा।

उन्होंने कहा कि “हम डीएम से 4 दिसंबर को अखाड़ा परिषद के महामंत्री हरिगिरि के साथ दर्शन-पूजन की फिर 5 दिसंबर को नागा साधुओं के लिए कार्यक्रम की मंजूरी मांगेंगे, मंजूरी मिलेगी तभी कार्यक्रम करेंगे. उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य राममंदिर के लिए कोई बवाल नहीं करना है, बल्कि सही तथ्य रखना है कि राष्ट्रपति मामले के जल्द सुनवाई को लेकर बेंच बनाने का निर्देश दें. मामले की जल्द सुनवाई के लिए राष्ट्रपति के साथ ही प्रधानमंत्री, लोकसभा अध्यक्ष आदि को भी पत्र लिखा गया है, लेकिन कहीं से जवाब नहीं आया है.

गौरतलब है कि आयोध्या में राम मंदिर बनाए के लिए साधु संतो ने सरकार से अध्यादेश लाने की मांग कर रहे है. वही धर्मसेना ने भी 6 दिसंबर को राममंदिर के लिए अनशन करने तो महंत परमहंसदास ने आत्मदाह करने की घोषणा कर रखी है. २५ नवम्बर को आयोध्या में शिवसेना ने आशीर्वाद यात्रा और विश्व हिन्दू परिषद् ने धर्म सभा का आयोजन किया था.