महाराष्ट्र के गढ़चिरोली में नक्सली हमला ; १५ जवान सहित १६ शहीद

Maoist attack in Gadchiroli Maharashtra

नागपुर : पिछले साल कसनासुर के जंगल में हुए एनकाउंटर में ४० नक्सलियों को मार गिराया था। जिसका बदला लेने के लिए नक्सलियों ने भुसुरंग के द्वारा विस्फोट कर पुलिस की गाड़ियों को उड़ा दिया है । क्युआरटी के १५ जवान और निजी गाड़ी का ड्राइवर सहित १६ लोग शहीद हो गए है। यह घटना १ मई की सुबह ११.३० से १२ की बीच की है। और यह कुरखेडा कोर्ची मार्ग के जम्भूरखेड़ा लेंडारी गांव के पास घटी है। घटना से इलाके में दहशत का माहौल बना हुआ है।

कुरखेडा भाग के पुराड़ा के पास दादापुर में यहां सशस्त्र नक्सलियों ने ३० अप्रैल की आधी रात को ठेकेदार के मिक्सर प्लांट को आग लगाकर २७ से ३० वाहनों को जला दिया। इस घटना की जांच करने के लिए गडचिरोली के क्यु आर टी (जलद प्रतिसाद पथक) के जवान सुबह दो निजी वाहनों से जा रहे थे। रस्ते में कुरखेडा से ६ किलोमीटर की दुरी पर जांबभुरखेड़ा लेंडरी गांव के बीच नक्सलियों ने ११.३० से १२ बजे अचानक भू सुरंग के जरिये विस्फोट किया। इस विस्फोट में क्यु आर टी के जवानों का एक वाहन हवा में उड़ गया, १५ जवान व निजी गाड़ी टाटा एस का ड्राइवर शहीद हो गए। पुलिस जवानों की एक गाड़ी थोड़ा पीछे रहने की वजह से बच गई। विशेष रूप से, १ मई को, जब पुलिस गढ़चिरोली में सम्मान कार्यक्रम कर लेते हुए उनके कुछ साथियों को नक्सली हमले में शहीद होना पड़ा।

यह भी पढ़ें : नक्सलियों ने 27 मशीनों और वाहनों में लगाई आग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘महाराष्ट्र के गडचिरोली में हमारे सुरक्षाकर्मियों पर हुए कायराना हमले की कड़ी निंदा करता हूं। सभी सुरक्षाबलों को सलाम। उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जाएगा। शहीदों के परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं। इस घटना को अंजाम देने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।’