मनोहर परिकर के दोनों बेटे कर सकते है राजनीती में एन्ट्री

Parri

पणजी : भाजपा के दिवंगत नेता और गोवा के मुख्यमंत्री रहे मनोहर परिकर के दोनों बेटे जल्द ही राजनीती में एन्ट्री कर सकते है. मनोहर परिकर मेमोरियल नाम के ट्वीटर हैंडल से एक पत्र ट्वीट किया है. जिसमे उन्होंने कहा ” राज्य और देश के प्रति उनके पिता बेहद निष्ठावान थे और वह अपने पिता की विरासत को आगे बढ़ाएंगे.”

पूर्व ब्रिटिश पीएम बेंजामिन डिसरैली की कही एक बात का जिक्र करते हुए पर्रिकर के बेटों ने अपने बयान में लिखा, “कहा जाता है कि नायकों की विरासत एक महान नाम की याद और एक महान उदाहरण की विरासत होती है. हम राज्य और देश के प्रति उनकी निष्ठा की विरासत को आगे बढ़ाएंग, यह हमारी तरफ से उनको श्रद्धांजलि होगी.”

पर्रिकर के बेटों ने आगे लिखा, “मेरे पिता ने हर दिन जोश, एक मजबूत इच्छा शक्ति और देशसेवा के सपने के साथ जिया. वह अपनी आखिरी सांस तक राज्य की सेवा करते रहे.”

यह भी पढ़ें : प्रकाश आंबेडकर वोट का विभाजन करना चाहते थे: पृथ्वीराज चौहान

दोनों बेटों ने लिखा कि ” उनके पिता जाने से उनके परिवार में एक ऐसी कमी आ गई है जो पूरी नहीं की जा सकती है. उन्होंने लिखा, “हालांकि लोगों का प्यार और उनके जो संदेश हमें मिल रहे हैं उससे हमें अहसास हो रहा है कि वह हमारे लिए एक बहुत बड़ा परिवार छोड़ गए हैं.”

गौरतलब है कि, मनोहर परिकर की 17 मार्च को निधन हो गया था. वह एक साल से पैनक्रियाटिक कैंसर से जूझ रहे थे. उनके निधन के बाद से ही कयास लगाए जा रहे हैं कि उनके बेटे उत्पल और अभिजात आगामी लोकसभा चुनाव या फिर पर्रिकर की विधानसभा सीट से पणजी से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत कर सकते हैं.