महात्मा जोतीराव फुले किसान कर्जमुक्ति योजना को मंजूरी

CM Uddhav Thackeray

महात्मा जोतीराव फुले किसान कर्जमुक्ति योजना के प्रारूप को आज मंत्रिमंडल की बैठक में मंजूरी दी गई. नागपुर में हुए शीत सत्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस योजना की घोषणा की थी.

1 अप्रैल 2015 से 31 मार्च 2019 तक उठाए गए एक से अधिक कर्ज खाते में अल्प अवधि के लिए फसल कर्ज और अल्प अवधि फसल कर्ज के पुनर्गठीत कर्ज की 30 सितंबर 2019 तक की स्थगित रकम या भुगतान न की हुई रकम जो 2 लाख से कम होनेपर ऐसे सभी खातों को 2 लाख तक की सीमा तक कर्जमुक्ति का लाभ दिया जाएगा.

किसानों का अल्प / अत्यल्प भूधारक ऐसे जमीन धारण क्षेत्र ध्यान में न लेकर, 1 अप्रैल 2015 से 31 मार्च 2019 इस कालावधि में लिए गए अल्प अवधि के कर्ज तथा अल्प अवधि के फसल कर्ज का पुनर्गठीत/पुनः पुनर्गठीत कर्ज इस योजना के लाभ के लिए पात्र रहेंगे.

इस योजना में जिन अल्प अवधि फसल कर्ज खातों अथवा अल्प अवधि फसल पीक कर्ज का पुनर्गठन / पुनः पुनर्गठन किए कर्ज खातों की मूल रकम और ब्याज के साथ 30 सितंबर 2019 तक स्थागिति और भुगतान न हुई रकम दो लाख स्व अधिक होने पर ऐसे कर्ज खातों की जानकारी बैंकों से मांगी जाएगी. और ऐसे कर्ज खातों को यथावकाश उचित समर्पक योजना द्वारा राहत दिलाने का प्रयास किया जाएगा.

साथ ही किसान अल्प अवधि के फसल कर्ज का नियमित भुगतान करते है. ऐसे किसानों को प्रोत्साहन देने के लिए नई योजना जल्द ही घोषित की जाएगी.