महाराष्ट्र में पिछले ५ सालों में ६० लाख लोगों को मिला रोजगार

Subhash Desai

मुंबई :- राज्य में पिछले ५ सालों में १० लाख २७ हजार से अधिक सूक्ष्म, लघू, मध्यम उद्योगों के द्वारा ६० लाख लोगों को रोजगार मिला है। इन उद्योगों में 1 लाख ६५ हजार ०६२ करोड़ रुपये का निवेश किया गया है।

पिछले पाँच सालों में महाराष्ट्र में सबसे अधिक विदेशी निवेश हुआ है। देश के कुल रोजगारों में से २५ फीसदी रोजगार निर्मिती राज्य में हुई है, यह जानकारी उद्योगमंत्री सुभाष देसाई ने दी।

मराठवाडा विभाग में 1 लाख ८ हजार ६७४ सुक्ष्म एवं लघु उद्योग स्थापन हुए है। जिनमें १७ हजार ६६३ करोड़ रुपए का निवेश हुआ और ५ लाख ८० हजार ५०७ रोजगार निर्मिती हुई है। विदर्भ विभाग में १ लाख ९४ हजार ४२० उद्योग स्थापन हूए है और १८ हजार २३६ करोड़ रुपए निवेश और ६ लाख ३७ हजार ४०९ रोजगारों का निर्माण हुआ है।

मेक इन इंडिया, मॅग्नेटिक महाराष्ट्र इन दो महत्वाकांक्षी कार्यक्रमो से रोजगार निर्मिती को गति मिली है और सामंजस्य करार में से कार्यान्वित हुए परियोजनाओं का प्रमाण सबसे अधिक है।

युवा उद्योजकों के लिए स्वंयरोजगार को प्रोत्साहन देनेवाला ‘मुख्यमंत्री रोजगार निर्मिती कार्यक्रम’ का शुभारंभ हाल ही में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों किया गया। सर्वसम्पन्न ऐसे इस योजना से उद्योजकों के ब्याज दर भार भी कम किया गया है।

बालासाहेब ठाकरे रोजगार समारोह के माध्यम से तकरीबन ५० हजार युवकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध हुए है।

उद्योग विकास आयुक्त तथा विभाग के सचिव डॉ. हर्षदीप कांबले ने बताया कि नए उद्यमियों को सूक्ष्म एवं लघु उद्योग शुरू करने के लिए सहायता एवं रोजगार निर्मिती को प्रोत्साहन देने में और बड़े पैमाने पर इसका क्रियान्वयन करने में महाराष्ट्र यह प्रथम क्रमांक का राज्य है।