पिता पर लगाया रेप का झूठा आरोप, जल्द होगी बेटी पर कार्रवाई

Court

ठाणे : ठाणे में पिता पर रेप के झूठे आरोप में नाबालिग बेटी पर कार्रवाई करने के आदेश कोर्ट ने दिए हैं.

कोर्ट ने रेप के झूठे आरोप से व्यक्ति को मुक्त कर दिया है. उस व्यक्ति पर यह झूठा आरोप उसकी नाबालिग बेटी ने ही लगाया था. कोर्ट ने मिसाल कायम करते हुए बेटी पर झूठी गवाही देने के लिए कानूनी कार्रवाई किए जाने का आदेश दिया है.

जज ने इस बात को गंभीरता से लिया है कि लड़की ने कोर्ट के सामने झूठे सबूत पेश किए और पोक्सो कानून का गलत इस्तेमाल करने के लिए उसे सख्त संदेश दिया जाए. अगस्त 2013 में लड़की जब 16 साल की थी तो उसने पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए यह आरोप लगाया कि जब वह अपने माता-पिता के साथ सो रही थी तो उसके पिता ने उसे गलत तरह से छुआ और कई बार उसका बलात्कार किया.

लड़की का पिता दिहाड़ी मजदूर है. इस शिकायत के बाद लड़की के पिता पर पोक्सो कानून तहत मामला दर्ज किया गया, जिसके बाद अप्रैल 2014 में नवी मुंबई पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर दिया.

कोर्ट में गवाही देते हुए लड़की ने यह माना कि उसने कहासुनी के बाद अपने पिता के खिलाफ झूठा मामला दर्ज कराया था. कोर्ट ने कहा, ‘समाज में यह संदेश जाना चाहिए कि पोक्सो कानून का गलत इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए.’

जज ने अपने आदेश में कहा, ‘निश्चिततौर पर शिकायतकर्ता ने पोक्सो कानून का गलत इस्तेमाल करते हुए अपने ही पिता के खिलाफ झूठी शिकायत दर्ज कराई है. इस शिकायत के कारण पिता को शारीरिक और मानसिक कष्ट हुआ है और झूठे आरोप लगा कर पिता को प्रताड़ित करने के लिए बेटी पर कार्रवाई करने का आदेश दिया है.