टांग अड़ाया तो जरूर गिरेंगे – उद्धव ठाकरे

Udhav

औरंगाबाद : औरंगाबाद में आयोजित भाजपा-शिवसेना गठबंधन की संयुक्त सभा में उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को मार्गदर्शित किया। इस समय ठाकरे ने सभासंबोधित करते हुए विरोधियों पर टिप्पणी की कि, गठबंधन करते समय अगर वे लोग टांग अड़ाएंगे तो जरूर मुँह के बल गिरेंगे।

गठबंधन को लेकर शिवसेना-भाजपा पर कई आलोचनाएं की गई जिसका जवाब देते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि, गठबंधन से पहले जब भाजपा के साथ मतभेद था। तब हमने सार्वजनिक रूप से उनकी आलोचना की थी। लेकिन कभी भी मतभेद की वजह से राज्य के विकास काम में टांग नहीं अड़ाया। हमने कभी भी एक दूसरे के पक्ष को परेशान नहीं किया। उन्होंने विरोधी पार्टी पर टिप्पणी करते हुए कहा कि,अगर वह गठबंधन के सामने एक दूसरे के कामों में टांग अड़ाएंगे तो जरुर गिरेंगे। उन्होंने कहा, यह आपकी जिम्मेदारी है कि आप अपने गठबंधन को फूलों की तरह बनाए रखें और लोगों को सुगंध दें। साथ ही, राज्य से भगवा को निकालना तो छोड़ो, उसकी तरफ आंख उठाकर देखने की हिम्मत भी नहीं होनी चाहिए।

मैंने जनता से जो वादा किया था, उसे पूरा किया है। इस प्रकार, मुंबई में ५०० फीट तक के घरों के संपत्ति कर और नानार परियोजना को रद्द कर दिया गया है। यहां तक कि समृद्धि महामार्ग के समय सभी को साथ लेकर, किसानों की सभी समस्याओं को हल करते हुए हम आगे बढे है। शरद पवार की आलोचना करते हुए, ठाकरे ने कहा, शिवसेना ने हमेशा मुझे गरीबों के बच्चों की देखभाल करना सिखाया है। इसी तरह, राधाकृष्ण विखे पाटिल ने कहा था कि ईडी के डर की वजह से गठबंधन किया है। हालांकि, ईडी का डर आपको है हमें नहीं।