मोदी की सभा में आधा मैदान खाली

राज्य में पहली सभा को जनता का ठंडा प्रतिसाद...

Modi Meeting

वर्धा : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के लिए वर्धा से सभा की शुरुवात की। आज(सोमवार) मोदी ने राज्य में पहली सभा की। इस सभा में उन्होंने हिंदुत्व ले मुद्दे से कांग्रेस-राष्ट्रवादी को घेरने की कोशिश की। मोदी ने आज सुबह मराठी में ट्वीट कर इस बारें में जानकारी दी थी। हालांकि, मोदी की बैठक में उम्मीद से बहुत कम भीड़ देखी गई। आयोजकों को उम्मीद थी कि सभा में भीड़ देखने मिलेगी। लेकिन आधा मैदान खाली था।

२०१४ में हुए चुनाव के दौरान महाराष्ट्र में पहली सभा वर्धा में ही आयोजित किया गया था। इस चुनाव में भाजपा को अभूतपूर्व सफलता मिली। वर्धा भाजपा के लिए लकी साबित होता है। इसलिए प्रचार शुभारंभ वर्धा से किया गया। आज सुबह ११.३० बजे वर्धा में स्वावलंबी मैदान में इस साल की चुनाव प्रचार की पहली सभा आयोजित की गई। १८ एकर के मैदान का अधिकतर भाग खाली था। मुंबई में दादर स्थित शिवाजी पार्क के मैदान का भाग २७ एकर है। मतलब शिवाजी पार्क आधा भरे इतनी भी भीड़ मोदी के पहले सभा में नहीं दिखी। इस सभा में खाली मैदान पर से आयोजको में सभा में भीड़ नहीं आने की चर्चा है। साथ ही यह चर्चा भी है कि,गर्मी और सभा की जगह पर मंडप नहीं होने की वजह से कई लोगों का सभा में आना नहीं हुआ। इससे पहले २८ मार्च के दिन मोदी ने लोकसभा चुनाव के लिए रणसिंग मेरठ की सभा में पीछे की कुर्सियां खाली होने की फोटो वायरल हुई थी।

यह भी पढ़ें : कांग्रेस और एनसीपी का गठबंधन कुंभकरण, पवार पारिवारिक युद्ध से परेशान- मोदी

इस सभा में मोदी ने हिंदुत्व के मुद्दे से कांग्रेस-राष्ट्रवादी को घेरने की कोशिश किया है। कांग्रेस ने हिंदू आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल कर देश का अपमान किया है। दुनिया में हिंदू आतंकवाद में शामिल होने की कोई घटना नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि, कांग्रेस ने हिन्दू आतंकवाद इस शब्द से देश की ५००० साल पहले की संस्कृति को बदनाम करने की कोशिश की है। इस बीच, भाजपा राज्य में हजारों सभाएं करने जा रही है। इनमें से मोदी राज्य में आठ बैठकें करेंगे, जो आज की वर्धा बैठक से शुरू हुईं।

मोदी की आखिरी बैठक मुंबई में होगी। इस बैठक में, मोदी और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे एक ही मंच उपस्थित होंगे। सुषमा स्वराज, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, अमित शाह के अलावा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अमित शाह और अन्य वरिष्ठ भाजपा नेता राज्य में बैठकों के लिए मौजूद होंगे । हालाँकि, प्रधान मंत्री की पहली बैठक में खाली मैदान ने निश्चित रूप से आयोजकों की चिंता को बढ़ा दिया है। आज की बैठक में वर्धा लोकसभा क्षेत्र के संयोजक सुधीर दिवे, अध्यक्ष डॉ. शिरीष गोडसे, सांसद रामदास तडास, विधायक डॉ. पंकज भोयर, जिला अध्यक्ष राजेश सराफ, और आरपीआई के जिला अध्यक्ष विजय आगलावे   भी उपस्थित थे।