जान बचाने के लिए सभी मछुआरों ने लगायी समुद्र में छलांग

मुंबई: महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से जारी भारी बारिश के बीच समुद्र की लहरों में दो अलग-अलग जगहों पर मछुआरों की नाव फंसने का मामला सामने आया है। दोनों ही मामलों में नाव में फंसे मछुआरों को बचा लिया गया है।

सूत्रों के मुताबिक़, पहला मामला महाराष्ट्र के कोस्टल रत्नागिरी इलाके का है। यहां मंगलवार को हुई तेज बारिश के बाद मछली पकड़ने समुद्र में गए 12 मछुआरे लहरों के बीच फंस गए। तेज हवा के कारण उनकी नाव ने दिशा बदल ली। और समुद्र में उनकी नाव डोलने लगी और अनियंत्रित हो गई। इसके बाद पानी नाव में घुसने लगा। लहरों के रुख को देख मछुआरों को ऐसा लगा मानो उनकी नाव पलट जाएगी। इसके बाद जान बचाने के लिए सभी मछुआरों ने पानी में छलांग लगा दी। घटना स्थल से समुद्र तट की दूरी ज्यादा नहीं थी इसलिए सभी मछुआरे नाव को मझधार में छोड़ किनारे आ गए। इस दुर्घटना में सभी मछुआरे सुरक्षित हैं।


दूसरी घटना मुंबई से 200 किलोमीटर दूर की है। मुंबई कोस्ट गार्ड को 17 सितंबर को यह जानकारी मिली कि, एक नाव पर सवार 14 मछुआरे कई दिनों से पानी में फंसे हुए हैं। तेज लहरों के कारण उनका इंजन खराब हो गया है और उनकी नाव पानी में फंसी हुई है। मूसलाधार बारिश के कारण कोई भी उनकी मदद के लिए नहीं पहुंच नहीं पा रहा था।

इसके बाद बुधवार को कोस्ट गार्ड ने एक रेस्क्यू ऑपरेशन चलाते हुए आज सभी मछुआरों को सही सलामत बोट से निकाला। कोस्टगार्ड के मुताबिक, लो विजिबिलिटी और भारी बारिश के कारण नाव तक पहुंचने में इतना टाइम लगा।