माध्यम संस्थाओं को मतदाता जनजागरण के लिए निर्वाचन आयोग की ओर से मिलेगा पुरस्कार

Election-commission

मुंबई: लोकशाही के राष्ट्रीय उत्सव रहे चुनाव में मतदाताओं ने सक्रिय सहभागिता दर्ज करने के लिए जनजागरण करनेवाले प्रसार माध्यम संस्थाओं को प्रथमत: ही राष्ट्रीय पुरस्कार से भारत निर्वाचन आयोग की ओर से सम्मानित किया जाएगा। भारत निर्वाचन आयोग के जरिए मुद्रित माध्यम, टेलीविज़न, रेडियो और ऑनलाईन (इंटरनेट) /सोशल मीडिया इन चार गुटों में यह पुरस्कार दिया जाएगा।

लोकशाही को मजबूत करने के लिए वर्ष 2019 में हो रहे चुनाव में ज्यादा से ज्यादा मतदान हो सके, इसके लिए चुनाव की पूरी प्रक्रिया के संदर्भ में जनजागरण, आम जनों में मतदान जागृति और मतदाता पंजीयन के लिए विशेष प्रयास करनेवाली प्रसार माध्यम संस्थाओं को 25 जनवरी 2020 को आयोजित राष्ट्रीय मतदार दिन कार्यक्रम में यह पुरस्कार दिया जाएगा। मतदाता जागृति अभियान, बड़े पैमाने पर विशेष प्रसिद्धी, जनता पर इसका प्रभाव इन सभी निष्कर्षों के आधार पर पुरस्कार का चयन किया जाएगा। इसके लिए माध्यम संस्थाओं ने 31 अक्तूबर 2019 तक आवेदन करने का आवाहन भारत निर्वाचन आयोग के अवर सचिव (संवाद) श्री. पवन दिवाण ने किया है।

प्रसार माध्यम अंग्रेजी तथा हिंदी में प्रवेशिका भेज सकते है। अन्य किसी भी भाषा में स्पर्धा के लिए प्रवेशिका भेज सकेंगे। लेकिन इसके साथ अंगेजी भाषा में अनुवादित की हुई एक प्रत संलग्न करना होगा। संपर्क है – श्री. पवन दिवाण, अवर सचिव (कम्युनिकेशन), भारत निर्वाचन आयोग, निर्वाचन सदन, अशोका रोड, नई दिल्ली – 110001, ई-मेल- [email protected], तथा [email protected], दूरध्वनी क्र. 011-23052133.