मतदाताओं की सहायता के लिए ‘सी विजिल’, ‘वोटर्स हेल्पलाइन’, ‘पीडब्ल्यूडी’ ऐप

मुंबई: केंद्रीय चुनाव आयोग की ओर से मतदाताओं की सहायता के लिए आधुनिक तकनीक के उपयोग पर जोर दिया जा रहा है। आने वाले विधानसभा चुनावों के लिए ‘सी विजिल’ नामक एप्लीकेशन के साथ-साथ विकलांग मतदाताओं के लिए ‘पीडब्ल्यूडी’ और ‘वोटर्स हेल्पलाइन’ एप्लीकेशन उपलब्ध कराये गये हैं। तीनों ऐप गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध हैं।

आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत सीधे भारत निर्वाचन आयोग के पास की जा सकती है। चुनाव से संबंधित झूठी खबरें, सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान, मतदाताओं को पैसे का वितरण, शराब या नशीले पदार्थों का वितरण, हथियारों का अवैध प्रदर्शन, धमकी, सांप्रदायिक द्वेषयुक्त भाषण, पेड न्यूज , वस्तुओं का मुफ्त वितरण, मुफ्त परिवहन सेवाएं आदि की शिकायत करने के लिए ‘सी विजिल’ नाम के शक्तिशाली ऐप का उपयोग किया जा सकता है। यदि किसी स्थान पर आचार संहिता का उल्लंघन किया गया है, तो उसका एक फोटो या वीडियो बनाकर इस ऐप पर अपलोड किया जा सकता है। चुनाव आयोग इस प्रकार की शिकायत पर ध्यान देता है।

इस चुनाव में वोट देने के लिए दिव्यांग नागरिकों खासकर विकलांग लोगों को मतदान करना आसान बनाने के लिए यह ‘पीडब्ल्यूडी ऐप’ विकसित किया गया है। इस ऐप द्वारा विकलांग व्यक्तियों का पंजीकरण करना आसान होगा, नए मतदाताओं का पंजीकरण, मतदाता सूची के नामों का हस्तांतरण, मतदाता सूची के नामों में संशोधन या नाम हटाना, व्हीलचेयर के लिए अनुरोध, मतदान केंद्र की खोज, आवेदन की स्थिति देखने आदि की सुविधा होगी।

‘वोटर्स हेल्पलाइन’ ऐप द्वारा मतदाता सूची में नाम खोजना, नए आवेदन या सूची के नामों का हस्तांतरण करना सरल हो जाता है। चुनाव सेवाओं से संबंधित शिकायत दर्ज की जा सकती है और उनकी स्थिति पता की जा सकती है। मतदान, चुनाव, ईवीएम, नतीजे से संबंधित शंकाओं का समाधान, चुनाव कार्यक्रम, उम्मीदवारों की जानकारी, चुनाव अधिकारियों की जानकारी, चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की सूची की जानकारी इस ऐप पर प्राप्त की जा सकती है। इसमें मतदान के बाद सेल्फी अपलोड करने की सुविधा भी उपलब्ध है।