‘अनुलोम ‘ के कार्य प्रशंसनीय और सराहनीय: मुख्यमंत्री

cm fadnavis

जलगाँव : सरकार की विभिन्न प्रकार की योजनाओं को समाज के अंतिम घटक तक पहुँचाकर उनके जीवन में परिवर्तन लाने के लिए ‘अनुलोम’ द्वारा शुरू किये गये कार्य प्रशंसनीय और सराहनीय हैं, राज्य के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने यह बात कही।

जैन हिल्स स्थित कस्तूरबा गांधी सभागृह में आज सुबह अनुगामी लोकराज्य महाभियान अर्थात ‘अनुलोम’ का चौथा वार्षिक अनुलोम संगम महोत्सव आयोजित किया गया। इसी अवसर पर मुख्यमंत्री बोल रहे थे । इस अवसर पर राज्य के चिकित्सा शिक्षण, जलसंपदा मंत्री तथा जलगाँव जिला के पालकमंत्री गिरीश महाजन, जिलाधिकारी डॉ. अविनाश ढाकणे,पुलिस अधीक्षक डॉ. पंजाबराव उगले, ‘अनुलोम’ के कार्यकारी अधिकारी अतुल वझे,पंकज पाठक उपस्थित थे । इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले जनसेवक, भाग सेवक , विस्तारकों को मुख्यमंत्री श्री फडणवीस के हाथों सम्मानित किया गया साथ ही डॉ. नितिन खर्चे लिखित ‘पंडित दीनदयाल उपाध्याय के व्यक्तित्व के विभिन्न पहलू’ नामक पुस्तक का प्रा.डॉ. सुनील कुलकर्णी द्वारा हिंदी भाषा में अनुवादित किये गये ‘पंडित दीनदयाल उपाध्याय, जीवनदर्शन के विविध पहलू ’ नामक पुस्तक का प्रकाशन, अनुलोम की वार्षिक रिपोर्ट का प्रकाशन भी मुख्यमंत्री श्री फडणवीस के हाथों किया गया।

मुख्यमंत्री श्री फडणवीस ने कहा कि सरकारी अधिकारियों और नागरिकों के बीच बातचीत के द्वारा ‘अनुलोम’ के माध्यम से, सरकार की विभिन्न योजनाओं को अंतिम घटक तक पहुँचाने का काम किया जा रहा है , यह संतोषजनक बात है । इसके अलावा, कीचड़ मुक्त बाँध , कीचड़युक्त शिवार अभियान में ‘अनुलोम’ संगठन का काम उल्लेखनीय है। मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगों से आवाहन किया कि अगले वर्ष इस संस्था द्वारा 2 करोड़ घन मीटर कीचड़ निकालने का लक्ष्य रखें।

कोकण में पर्यटन वृद्धि हो इसके लिए पिछले पाँच वर्षों में विभिन्न आधारभूत सुविधाएँ उपलब्ध की गयीं । रत्नागिरि, सिंधुदुर्ग जिले में पर्यटन, मछली पालन व्यवसाय की वृध्दि के लिए विशेष लक्ष्य निर्धारित किया गया । रायगड जिला औद्योगिक विकास के मामले में आगे लाया गया। ‘नैना’ के माध्यम से तीसरी मुंबई साकार रूप ले रही है। पालघर व ठाणे जिलों में अधिकतर भाग आदिवासी बहुल हैं। इन भागों में स्वास्थ्य सुविधाओं की ओर विशेष ध्यान दिया गया। इसके चलते इस भाग का स्वास्थ्य सूचकांक बढ़ा और कुपोषण मुक्ति की ओर बढ़ने का काम जारी है। इस कार्यक्रम में जनसेवकों द्वारा मुख्यमंत्री श्री फडणवीस से पूछा गया कि कोकण कब कॅलिफोर्निया होगा , इस प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंने यह जानकारी दी। साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि कॅलिफोर्निया की अपेक्षा कोकण समृध्द है।
आने वाले समय में १०० लाख करोड़ रुपये खर्च कर आधारभूत सुविधाएँ उपलब्ध की जाएँगी । देश की अर्थव्यवस्था का विस्तार हो रहा है । २०२५ तक देश की अर्थव्यवस्था ५ ट्रिलियन तक लाने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना है। इससे कृषि व्यवसाय,सेवा, उद्योग क्षेत्र में विस्तार होने के अवसर मिलेंगे। ऐसा होने से रोजगार के विभिन्न अवसर उपलब्ध होंगे। देश विकसित देश बनने की ओर अग्रसर है। गाँव, गरीब और किसान का विकास होगा। इसके लिए आगामी पाँच वर्ष महत्वपूर्ण हैं जिसके लिए ‘अनुलोम’ को विकास की संकल्पना वंचित घटकों तक पहुँचाने के लिए अधिक गति से काम करना होगा , मुख्यमंत्री श्री फडणवीस ने कहा।

‘अनुलोम’ एक संस्था नहीं , बल्कि परिवार है। यह परिवार अब बढ़कर एक विशाल परिवार बनना चाहिए। यह विशाल परिवार जैवविविधता तथा पर्यावरण के संवर्धन के लिए आगे आये । ३३ करोड़ वृक्षारोपण, जलभंडारण के लिए समाज में जागरूकता लायी जाए , मुख्यमंत्री श्री फडणवीस ने कहा। इस अवसर पर श्री वझे, श्री पाठक,चंद्रकांत पवार आदि ने अपने विचार व्यक्त किये।