कॉमनवेल्थ गेम : तेजस्वी सावंत ने शूटिंग में जीता रजत

गोल्ड कोस्ट: भारत के लिए ऑस्ट्रेलिया में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ खेलों का आठवां दिन भारत ने बहुत ही शानदार शुरुआत की है। शूटिंग में तेजस्विनी सावंत ने भारत को पहला पदक दिलाया है। उन्होंने महिलाओं की 50 मीटर राइफल प्रोन इवेंट में सिल्वर मेडल हासिल किया।

बता दें कि, तेजस्विनी ने पहले राउंड में 102.1, दूसरे में 102.4, तीसरे में 103.3, चौथे में 102.8, पांचवें 103.7 और छठे में 104.6 का स्कोर सिल्वर मेडल अपने नाम किया। वह गोल्ड जीतने वाली मार्टिना से 2.1 पीछे रहीं। ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली सियोनैड उनसे 0.8 अंक पीछे रहीं। उन्होंने कुल 618.1 का स्कोर किया। वहीं मार्टिना ने कुल 621 का स्कोर किया। मार्टिना का कॉमनवेल्थ गेम्स में यह रिकॉर्ड भी है।

तेजस्विनी ने 2010 म्यूनिख (जर्मनी) वर्ल्ड चैम्पियनशिप में 50 मीटर राइफल प्रोन में गोल्ड जीता था। वर्ल्ड चैम्पियनशिप में गोल्ड जीतने वाली पहली महिला खिलाड़ी हैं।
तेजस्विनी ने 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में 50 मीटर राइफल प्रोन में सिल्वर, पेयर्स 50 मीटर राइफल प्रोन में ब्रॉन्ज, पेयर्स 50 मीटर 3 राइफल पोजिशन में ब्रॉन्ज जीता था।
वह 2006 मेलबर्न कॉमनवेल्थ गेम्स में 10 मीटर एयर राइफल और पेयर्स 10 मीटर एयर राइफल में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं।

वही ओलंपिक विजेता पहलवान सुशील कुमार ने कॉमनवेल्थ खेल में उम्मीदों पर खरा उतरते हुए फाइनल में प्रवेश करते हुए रजत सुनिश्चित कर दिया है। उनके अलावा राहुल अवारे ने भी कश्ती में रजत पदक सुनिश्चत कर दिया। भारत इस कॉमनवेल्थ गेम्स में अब तक 25 मेडल (12 गोल्ड, 5 सिल्वर और 8 ब्रॉन्ज) जीत चुका है। मेडल टैली में वह तीसरे स्थान पर है।

आठवां दिन कुश्तीमय होने जा रहा है। भारत सीधे तौर पर आठ पदकों के लिए मुकाबला करने जा रहा है। इन आठ में से चार पदक महिला और पुरुष वर्ग की अलग-अलग कैटेगिरी में दांव पर लगे हैं। अगले दौरों की लड़ाई जीतते रहने पर कुछ पदक की जंग और तैयार हो सकती हैं। अब देखने वाली बात यह होगी कि आठवें दिन भारतीय खिलाड़ी पदकों की सूची को कहां तक लेकर जाते हैं।