सफाई कर्मचारियों को केंद्र और राज्य सरकार की सभी योजनाओं का लाभ दिलाएँगे- दिलीप के. हाथीबेड

Hathibed

मुंबई : राज्य के सफाई कर्मचारी और उनके वारिसों को सामाजिक, शैक्षणिक एवं आर्थिक विकास के लिए केंद्र और राज्य सरकार के सफाई कर्मचारियों के लिए जो योजनाएं है, उन योजनाओं का अधिकतम लाभ दिलाएँगे, यह जानकारी राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य दिलीप के. हाथीबेड ने दी।

सह्याद्री अथिथिगृह में आयोजित पत्रकार परिषद में श्री. हाथीबेड बोल रहे थे। राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य दिलीप के. हाथीबेड यह राज्य के दौरे पर आए थे।

परिषद में श्री. हाथीबेड ने कहा कि ठाणे और पालघर जिले में पिछले महीने में हुई दुर्घटना में छह सफाई कर्मचारियों का मृत्यू हुआ था। उन सफाई कर्मचारियों के वारिसों को अस्थायी (तात्पुरती) स्वरुप में नौकरी दी गई है। राज्य के सफाई कर्मचारियों के लिए लाड-पागे समिति के सिफ़ारिश का अधिकतम लाभ दिलाने के लिए सभी विभागों के सचिवों से चर्चा की है। राज्य के महानगरपालिका में सफाई कर्मचारियों के लिए सफाई करते समय दुर्घटना न हो, इसके लिए किस प्रकार ध्यान दिया जाना चाहिए, इस पर एक वीडियो तैयार किया जाएगा।

राज्य के सफाई कर्मचारी और उनके परिवार के उन्नति के लिए राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्तीय विकास महामंडल की स्थापना की गई है। इस महामंडल के योजनाओं का क्रियान्वयन महात्मा फुले पिछड़ावर्ग विकास महामंडल करेगा। इस महामंडल के अंतर्गत राज्य में सफाई कर्मचारियों को व्यवसाय के लिए विविध कर्ज योजनाएं चलाई जा रही है।

आज सह्याद्री अतिथिगृह में राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग के सदस्य दिलीप के. हाथीबेड की अध्यक्षता में राज्य के सफाई कर्मचारियों के संगठन की बैठक सम्पन्न हुई । इस दौरान सामाजिक न्याय विभाग के प्रधान सचिव दिनेश वाघमारे, वित्त विभाग के प्रधान सचिव राजगोपाल देवरा, सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव शिवाजी दौंड और सफाई संगठन के पदाधिकारी उपस्थित थे।