मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन

Manohar

गोवा : कैंसर से ग्रसित गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर का निधन हो गया। ६३ वर्षीय पर्रिकर कई दिनों से अग्नाशय की बीमारी से जूझ रहे थे। इन दो दिनों में उनकी स्तिथि चिंताजनक बताई जा रही थी। उनकी मृत्यु उनके निवास साथं डोना पौला में हुई है।

बता दे कि, पर्रिकर अग्नाशय के कैंसर यानी एडवांस पैंक्रियाज कैंसर से पीड़ित थे। उनका इलाज एम्स से शुरू था। साथ ही वह अमेरिका भी इलाज करने जा चुके थे। लेकिन उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ। बीते कुछ दिनों से बिगड़ती हालत की वजह से उनकी देख भाल घर में ही की जा रही थी।

पर्रिकर ने मुंबई के मेटलर्जी से IIT इंजीनियरिंग की थी । पर्रिकर पहली बार १९९४ में गोवा में विधान सभा के लिए चुने गए थे। अक्टूबर २००० में, वे पहली बार गोवा के मुख्यमंत्री बने। जून और नवंबर १९९९ के बीच, विपक्षी नेता थे। २०१४ में केंद्र में मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद, उन्हें २०१४-२०१७ के दौरान रक्षा मंत्री की जिम्मेदारी दी गई थी। सर्जिकल स्ट्राइक का फैसला उनके कार्यकाल के दौरान लिया गया था। मार्च 2017 में, गोवा विधानसभा चुनाव के बाद गोवा लौटने के बाद, वह गोवा लौट आए और फिर से गोवा के मुख्यमंत्री बने।