लोकसभा चुनाव के बाद राज्य के मतदाताओं की संख्या में 21 लाख से बढ़ोत्तरी

lok sabha

मुंबई :- लोकसभा चुनाव के बाद राज्य के कुल मतदाताओं की संख्या में 21 लाख 15 हजार 575 इतनी बढ़ोत्तरी हुई है। लोकसभा चुनाव के समय राज्य में कुल 8 करोड़ 73 लाख 30 हजार 484 मतदाता थे। अब 31 अगस्त तक 8 करोड़ 94 लाख 46 हजार 211 मतदाता दर्ज हुए है।

लोकसभा चुनाव में अधिकतम मतदान हो सके, इसके लिए भारत चुनाव आयोग और मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय के जरिए विशेष प्रयास किए गए है। जुलाई-अगस्त 2019 के बीच विशेष संक्षिप्त पुनरिक्षण कार्यक्रम चलाया गया। साथ ही अवकाश के दिन विशेष शिविरों का आयोजन किया गया। इन शिविरों में अधिकाधिक नागरिक मतदाता की सूची में अपना नाम दर्ज कर सके, इसके लिए प्रयास किए गए। इसके अलावा सहकारी गृहनिर्माण संस्थाओं के माध्यम से भी शहरी परिसर के मतदारताओं को भी जोड़ा गया है।

मार्च में हुए लोकसभा चुनाव के समय 4 करोड़ 57 लाख 02 हजार 579 पुरुष मतदाता और 4 करोड़ 16 लाख 25 हजार 819 महिला मतदाता थे। विधानसभा चुनाव के पहले 31 अगस्त 2019 को प्रकाशित अंतिम मतदाता की सूची में पुरुष मतदाताओं में दस लाख 35 हजार 262 नए पुरुष मतदाता दर्ज हुए है और यह संख्या 4 करोड़ 67 लाख 37 हजार 841 इतनी हुई है। वहीं महिला मतदाताओं में 10 लाख 79 हजार 958 इतनी बढ़ोत्तरी हुई है और यह अब 4 करोड़ 27 लाख 5 हजार 777 हुई है।

लोकसभा चुनाव के समय 2 हजार 86 तृतीयपंथी मतदाता थे, इसमें 507 मतदाता बढ़े है और यह संख्या अब 2 हजार 593 इनती हुई है। लोकसभा चुनाव के बाद कुल मतदाताओं की संख्या में 21 लाख 15 हजार 575 इतनी बढ़ोत्तरी हुई है।