नोटबंदी से अबतक आयकर विभाग ने मारे 586 छापे

बरामद किए 2,900 करोड़

notes-siezed

नई दिल्ली : नोटबंदी के ऐलान के बाद से अबतक इनकम टैक्स विभाग ने देशभर में 586 जगह छापेमारी की है. जिसमें कुल मिलाकर 2,900 करोड़ रुपए जब्त किए गए. उसमें से 300 करोड़ की करेंसी ऐसी थी जो कि फिलहल वैध है. उनमें 79 करोड़ के 2000 रुपए के नए नोट भी शामिल हैं. वहीं बाकी 2,600 करोड़ रुपए बेहिसाबी संपत्ति के थे. सबसे ज्यादा पैसा अबतक तमिलनाडु से बरामद हुआ है. वहां चेन्नई में छापा मारकर इनकम टैक्स विभाग ने एक बार में 100 करोड़ रुपए जब्त किए थे. सिर्फ तमिलनाडु से अबतक 140 करोड़ रुपए जब्त किए जा चुके हैं. उसके अलावा 52 करोड़ रुपए का सोना भी है.

वहीं दिल्ली के ग्रेटर कैलाश में एक वकील के यहां मारे गए छापे में 14 करोड़ रुपए बरामद हुए थे. उसी वकील ने अक्टूबर में 125 करोड़ की बेहिसाबी संपत्ति का खुलासा किया था. दो हफ्ते पहले इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के लोग उसके ऑफिस पहुंचे थे और उसके कुछ खातों को सीज कर दिया था. उन खातों में 19 करोड़ रुपए जमा थे. उस सारे पैसे का भी बेहिसाबी होने का शक था.

वहीं बुधवार को पुणे के बैंक ऑफ महाराष्ट्र से भी एक ऐसी ही चौंकाने वाली खबर मिली थी. उसमें पता लगा था कि एक शख्स ने 15 लॉकर्स लिए हुए थे. जिसमें उसने 9.85 करोड़ रुपए छिपाए हुए थे. अगस्त में लिए गए उन लॉकर्स में शख्स ने 8 करोड़ रुपए की नई करेंसी और बाकी 100-100 के नोट छिपाए थे. वहीं महाराष्ट्र में ही मारे गए बाकी छापों में 94.50 लाख रुपए बरामद किए गए. जिसमें से 80 लाख नई करेंसी थी. यानी महाराष्ट्र से कुल 10.80 करोड़ रुपए मिले जिसमें से 8.8 करोड़ नई करेंसी में थे.

गौरतलब है कि 8 नवंबर को मोदी सरकार ने नोटबंदी का ऐलान किया था. बताया गया था कि 30 दिसंबर के बाद 500 और 1000 के नोट चलने बंद हो जाएंगे. साथ ही नए 500 और 2000 रुपए के नोट लाने की बात भी तब ही बता दी गई थी. तब से लोग या तो कमीशन देकर अपने नोट बदलवा रहे हैं या फिर छिपा रहे हैं. वही नोट अब पकड़े जा रहे हैं.