विपक्ष सेनापति का रिमोट कंट्रोल मुख्यमंत्री के हाथों : नितेश राणे

Nitesh Rane

यवतमाल: कांग्रेस विधायक नितेश राणे महाराष्ट्र स्वाभिमानी पक्ष संगठन हेतु कार्यकर्ता मंडल कार्यक्रम में बोल रहे थे। राणे ने शिवसेना पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जब महत्वपूर्ण विधेयक पर निर्णय लेने का समय था उस वक्त शिवसेना शिवाजी जंयती पर बहस कर रही थी। राणे ने शिवसेना पर आरोप लगाते हुए कहा कि विपक्ष के सेपापति का रिमोट कंट्रोल मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों में हैं।

राणे ने शेवसेना और उद्धव ठाकरे पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा, शिवसेना यह छत्रपती शिवाजी महाराज के नाम का फायदा राजनीति में उठाना चाहती है। वे जंयती की तारीख पर विवाद कर किसी अन्य पार्टी को फायदा पहुंचा रही है। उन्होंने शिवसैनिकों से कहा वह उनके बाप उद्धव ठाकरे का जन्मदिन तिथी अुनासर मनाये। इससे पहले वह निश्चित कर ले कि उद्धव ठाकरे महापुरुष है या पुरुष हैं।

राणे ने कांग्रेस तथा अन्य विरोधी पक्ष की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा कि विरोधी पक्ष के सेनापति का रिमोट कंट्रोल मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों में हैं, जिससे विरोधी पक्ष आक्रमक शून्य बनी हुई है। अपने ही पक्ष पर आरोप लगाते हुए नितेश राणे ने कहा कि विरोधी पक्ष का हाल आईसीयू में भर्ती होने जैसा है। विदर्भ में असंख्य प्रश्नों पर विपक्ष की चुप्पी दुर्दैवी है। उनहोंने कहा कि विदर्भ में अधिवेशन कम से कम 3 माह तक चलाना चाहिए।